Categories
News Other

पूर्व पीएम मनमोहन सिंह नें मोदी को दी बड़ी नसीहत , बोले…..

खबरें

भारत चीन सैनिक और सीमा विवाद पर पूर्व प्रधानमंत्री डॉक्टर मनमोहन सिंह ने मोदी सरकार से अपील की है कि चीन को जवाब दें। उन्होंने गलवान वैली पर शहीद हुए 20 भारतीय सैनिकों को श्रद्धांजलि दी। इसी के साथ कहा कि जवानों का बलिदान व्यर्थ नहीं जाना चाहिए।

चीन सीमा विवाद पर पूर्व पीएम मनमोहन सिंह का बयान

दरअसल, भारत और चीन के सैनिकों के बीच लद्दाख में LAC पर झड़प में भारतीय जवानों के शहीद होने को लेकर कांग्रेस नेता और पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने नाराजगी जाहिर की। उन्होंने चीन को जवाब देने के लिए देश को एकजुट होकर लड़ने के लिए अपील की। उन्होंने कहा कि यही समय है, पूरा राष्ट्र एक जुट हो और संगठित होकर चीन की हरकत पर मुंहतोड़ जवाब दे।

शहीदों को दी श्रद्धांजलि, बोले- व्यर्थ नहीं जाना चाहिए बलिदान

शहीद जवानों को लेकर मनमोहन सिंह ने कहा कि देश के इन बेटों ने अंतिम सांस तक भारत की रक्षा की। इन साहसी सैनिकों के सर्वोच्च त्याग के लिए हम जवानों और उनके परिवार के कृतज्ञ है। इनका बलिदान व्यर्थ नहीं जाना चाहिए।

ये भी पढ़ेंः चीन तनाव: रूस के दौरे पर रक्षा मंत्री, दोस्त से भारत ने जल्दी मांगा ये खतरनाक हथियार

प्रधानमंत्री को शब्दों और एलानो पर सावधानी बरतने की नसीहत

पूर्व पीएम ने कहा कि आज सरकार के निर्णय और कदम तय करेंगे कि भारत का भविष्य कैसा होगा और आने वाली पीढ़ियां हमारा आंकलन कैसे करेंगी। मोदी सरकार को लेकर कहा कि उनके कन्धों पर बड़ा दायित्व है। प्रधानमंत्री को अपने शब्दों और एलानों के जरिये देश की सुरक्षा और समारिक व भूभागीय हितों पर पड़ने वाले प्रभाव के प्रति सदैव बेहद सावधान होना चाहिए।

चीन पर पलटवार-जवाब देने के लिए एकजुट हो राष्ट्र

उन्होंने कहा कि चीन ने अप्रैल से अब तक गलवान घाटी और पैंगॉन्ग त्सो लेक में कई बार जबरन घुसपैठ की। लेकिन हम उनकी धमकियों के सामने झुकेंगे नहीं और न ही अपनी भूभागीय अखंडता से कोई समझौता करेंगे। चीन की साजिश नाकाम करने के लिए जरुरी है कि पूरा राष्ट्र एकजुट हो।